...........................Welcome to Finance Department Government of Uttar Pradesh.........................वित्त विभाग उत्तर प्रदेश .................................

About

राज्‍य के वित्‍तीय प्रशासन सम्‍बन्‍धी कर्तव्‍यों एंव दायित्‍वों के लिये वित्‍त विभाग उत्‍तरदायी है |राज्‍य सरकार के लेन-देन सम्‍बंधी ऑकडों का संकलन एवं उनके सतत अनुश्रवण के माध्‍यम से वित्‍त विभाग राज्‍य की आर्थापाय स्थिति पर दष्टि रखता है| प्रदेश की भावी योजनाओं /कार्यक्रमो के क्रियान्‍वयन से सम्‍बंधित बजट अनुमानों को तैयार करना,वर्तमान बजट अनुमानों का पुनरीक्षण तथा अनुमोदित योजनाओं /कार्यक्रमों के क्रियान्‍वयन हेतु संसाधनों का ब्‍यौरा तैयार करना वित्‍त विभाग का दायित्‍व है|
विभिन्‍न कोषागरों के माध्‍यम से हुये व्‍ययों एवं प्राप्तियों के लेखो के संकलन के साथ ही साथ महालेखाकार और रिजर्व बैक आफ इण्डिया स्‍तर पर किए गये प्राप्तियों और समायजनों का लेखा रखना भी वित्‍त विभाग के कर्तव्‍यों में निहित है| वित्‍तीय प्रबन्‍ध एवं वित्‍तीय अनुशासन/नियमो के अनुपालन सम्‍बन्‍धी बिषयो में वित्‍त विभाग शासन का एक महत्‍वपूर्ण परामर्शी विभाग है|वित्‍त विभाग मे उपर्युक्‍त कार्यो के संचालनार्थ बजट संसाधन; व्‍यय; नियंत्रण; सामान्‍य; लेखा; आडिट एवं वेतन आयोग आदि उप शाखाये सृजित है| विभाग में प्रमुख सचिव के दिशा निर्देशन में सचिव; विशेष सचिव आदि के सहित 15 विभागाध्‍यक्ष कार्यरत है|
2- सामान्‍यत: वित्‍त विभाग शासन के अन्‍य विभागों के लिए परामर्शी विभाग हैं जिसमें वित्‍तीय नियमों; लेखों प्रक्रिया में बजट सम्‍बधीं मामलो में परामर्श देना सम्‍मलित है| इसी के साथ –साथ वित्‍त विभाग का शासकीय सेवकों के सेवानैवृत्तिक दावों के भुगतान से भी सम्‍बध है पेशन तथा सामूहिक जीवन बीमा धनराशि के भुगतान हेतु वित्‍त विभाग के अधीस्‍थ कार्यालयों का सीधा सम्‍बंध शासकीय सेवको के साथ बना रहता है| शासकीय सेवको को अपने देयों को प्राप्‍त करने में कोई कठिनाई न हो इस हेतु पेशन भुगतान प्रक्रिया का सरलीकरण तथा विकेन्‍द्रीकरण किया गया है|

Employee's Corner